BreakingTakniki

15 पीएचसी में बायोमेट्रिक मशीन में तकनीकी खराबी, अब नई खरीदने के लिए किया पाबंद

चिकित्सा संस्थान व पीएचसी-सीएचसी में अब बायोमेट्रिक मशीन के जरिये हाजिरी लगेगी। अब डॉक्टर व कर्मचारी कोई बहाना...

चिकित्सा संस्थान व पीएचसी-सीएचसी में अब बायोमेट्रिक मशीन के जरिये हाजिरी लगेगी। अब डॉक्टर व कर्मचारी कोई बहाना नहीं कर सकेंगे। मिशन निदेशक डॉ समित शर्मा ने सीएमएचओ को पाबंद कर दिया है।

जहां पर मशीन उपलब्ध नहीं है, उन्हें खरीदने के लिए निर्देशित कर दिया है। वहीं सीएमएचओ ने बुधवार को बायोमेट्रिक के जरिये हाजिरी लगाई। हालांकि जिले के सभी 55 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में बायोमेट्रिक मशीन उपलब्ध है, लेकिन 15 पीएचसी में तकनीकी खराबी के कारण बंद पड़ी है। जिले के 15 में से 12 सीएचसी बायोमेट्रिक मशीन से हाजिरी लग रही है। हालांकि तकनीकी खराबी वाली मशीनों को जल्द ठीक कराने के निर्देश दिए है।

फेस को पहचानने वाली बायोमेट्रिक मशीन लगानी होगी : सीएमएचओ ने सभी बीसीएमओ, सीएचसी व पीएचसी प्रभारी को फेस को पहचानने वाली बायो मेट्रिक मशीन लगाने के निर्देश दिए। अब उच्चाधिकारियों की तरफ से बिना सूचना के गायब रहने पर कोई बहाना नहीं चलेगा।

डूंगरपुर. कार्यालय में बायोमेट्रिक मशीन के जरिये हाजिरी लगाते सीएमएचओ।

Show More

Related Articles

Close
Close