मध्य प्रदेश देश पहला ऐसा राज्य जहा सीएम राईज स्कूल स्थापित हुए : प्रभारी मंत्री श्री दत्तीगांव 7 करोड़ 99 लाख से निर्मित महाविद्यालय दलौदा का लोकार्पण

खबर लाइव मंदसौर : विकास पर्व के दौरान जिले के प्रभारी मंत्री तथा औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग मध्यप्रदेश शासन के मंत्री श्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव, उच्च शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश शासन के मंत्री डॉ मोहन यादव साथ ही वित्त, वाणिज्यिक कर, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग मध्य प्रदेश शासन के मंत्री श्री जगदीश देवड़ा ने 7 करोड़ 99 लाख 14 हजार की लागत से निर्मित स्वामी विवेकानंद शासकीय महाविद्यालय दलोदा का लोकार्पण किया। इस अवसर पर मंदसौर विधायक श्री यशपाल सिंह सिसोदिया, श्री नानालाल अटोलिया, जनपद अध्यक्ष श्री बसंत शर्मा, श्री नरेश चंदवानी, श्री हेमंत धनोतिया, श्री मुकेश काला, श्री राधेश्याम पाटीदार, श्री मदन लाल राठौर, सरपंच सहित अन्य सभी जनप्रतिनिधि, कलेक्टर श्री दिलीप कुमार यादव, पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया सहित बड़ी संख्या में विद्यार्थी, ग्रामीण जन, पत्रकार मौजूद थे।
लोकार्पण अवसर पर प्रभारी मंत्री श्री राजवर्धन दत्तीगांव द्वारा कहा गया कि मध्य प्रदेश पहला ऐसा राज्य जिसने सीएम राईज स्कूल स्थापित किए। आज भारत विश्व में सर्वाधिक तकनीकी मानव संसाधन रखने वाला देश बन गया है। भारत देश आज विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति बन गया है। उन्होंने कॉलेज प्राचार्य को भी निर्देश देते हुए कहा कि कॉलेज में तकनीकी शिक्षा के क्लास फ्री में चलाए। विद्यार्थियों को प्रशिक्षण प्रदान करें। उन्होंने कहा कि सभी बच्चों के लिए यह स्वर्णिम अवसर है। इसको पहचाने तथा आगे बड़े। युवाओं की पाठशाला में खेल का मैदान होना चाहिए तथा खेल के क्षेत्र में भी बेहतर प्रदर्शन करें।

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ यादव ने कहा की नई शिक्षा नीति ने उम्र की सीमा समाप्त कर दी है। अब किसी भी उम्र में कॉलेज में एडमिशन लिया जा सकता है। अब पढ़ाई करने के लिए कोई उम्र नहीं है। अपनी इच्छा अनुसार कभी भी शिक्षा ग्रहण कर सकते हैं। अंग्रेजों ने ज्ञान को कम करने का प्रयास किया। उन्होंने शिक्षा पर उम्र की सीमा लगा दी। लेकिन नई शिक्षा नीति के तहत इस को समाप्त कर दिया। नई शिक्षा नीति में अब सब कुछ बदल दिया गया। नए पाठ्यक्रम में बहुत कुछ शामिल किया गया है। अब नए पाठ्यक्रम में रामायण, महाभारत और भारतीय संग्राम की कहानियां बताई जाएगी। डिग्री कागज का टुकड़ा न हो। इस आधार पर शिक्षा नीति बनाई गई है। उन्होंने विशेष तौर पर कहा कि कॉलेज में नए- नए कोर्स खोलें। उन्होंने इस अवसर पर कॉलेज में ई लाइब्रेरी देने की घोषणा की। अब एनसीसी, एनएसएस पाठ्यक्रम का हिस्सा होगें।

वित्त मंत्री श्री देवड़ा द्वारा कहा गया कि, मुख्यमंत्री 2 अगस्त को पिपलिया मंडी में करेंगे 876 करोड़ की मल्हारगढ़ सूक्ष्म सिंचाई परियोजना का भूमि पूजन करेंगे। सरकार ने इस क्षेत्र में अरबों रुपए के विकास के काम किए। प्रजातंत्र में जनता मालिक होती है। जनता जिसको कुर्सी पर बिठाती है, वह सेवक होता है।

मंदसौर विधायक श्री यशपाल सिंह सिसोदिया द्वारा कहा गया कि, दलोदा के आसपास मुख्य मार्ग पर 500 करोड रुपए के विकास के काम किए गए हैं। आज दलोदा में कॉलेज का लोकार्पण हुआ है। इससे अनेक गावों के बच्चों को लाभ मिलेगा। एक समय था जब बच्चे कॉलेज की पढ़ाई करने के लिए मंदसौर जाया करते थे। अब क्षेत्र के बच्चों को इतना दूर नहीं जाना पड़ेगा। यह कॉलेज सेंटर में स्थापित हुआ है। दलोदा तहसील कार्यालय में रजिस्ट्री की व्यवस्था भी हो। इसके साथ ही 1 दिन एसडीम कार्यालय भी लगे। कार्यक्रम के अंत में हॉकी के खिलाड़ियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।
खबर लाइव मंदसौर : विकास पर्व के दौरान जिले के प्रभारी मंत्री तथा औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग मध्यप्रदेश शासन के मंत्री श्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव, उच्च शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश शासन के मंत्री डॉ मोहन यादव साथ ही वित्त, वाणिज्यिक कर, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग मध्य प्रदेश शासन के मंत्री श्री जगदीश देवड़ा ने 7 करोड़ 99 लाख 14 हजार की लागत से निर्मित स्वामी विवेकानंद शासकीय महाविद्यालय दलोदा का लोकार्पण किया। इस अवसर पर मंदसौर विधायक श्री यशपाल सिंह सिसोदिया, श्री नानालाल अटोलिया, जनपद अध्यक्ष श्री बसंत शर्मा, श्री नरेश चंदवानी, श्री हेमंत धनोतिया, श्री मुकेश काला, श्री राधेश्याम पाटीदार, श्री मदन लाल राठौर, सरपंच सहित अन्य सभी जनप्रतिनिधि, कलेक्टर श्री दिलीप कुमार यादव, पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया सहित बड़ी संख्या में विद्यार्थी, ग्रामीण जन, पत्रकार मौजूद थे।
लोकार्पण अवसर पर प्रभारी मंत्री श्री राजवर्धन दत्तीगांव द्वारा कहा गया कि मध्य प्रदेश पहला ऐसा राज्य जिसने सीएम राईज स्कूल स्थापित किए। आज भारत विश्व में सर्वाधिक तकनीकी मानव संसाधन रखने वाला देश बन गया है। भारत देश आज विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति बन गया है। उन्होंने कॉलेज प्राचार्य को भी निर्देश देते हुए कहा कि कॉलेज में तकनीकी शिक्षा के क्लास फ्री में चलाए। विद्यार्थियों को प्रशिक्षण प्रदान करें। उन्होंने कहा कि सभी बच्चों के लिए यह स्वर्णिम अवसर है। इसको पहचाने तथा आगे बड़े। युवाओं की पाठशाला में खेल का मैदान होना चाहिए तथा खेल के क्षेत्र में भी बेहतर प्रदर्शन करें।

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ यादव ने कहा की नई शिक्षा नीति ने उम्र की सीमा समाप्त कर दी है। अब किसी भी उम्र में कॉलेज में एडमिशन लिया जा सकता है। अब पढ़ाई करने के लिए कोई उम्र नहीं है। अपनी इच्छा अनुसार कभी भी शिक्षा ग्रहण कर सकते हैं। अंग्रेजों ने ज्ञान को कम करने का प्रयास किया। उन्होंने शिक्षा पर उम्र की सीमा लगा दी। लेकिन नई शिक्षा नीति के तहत इस को समाप्त कर दिया। नई शिक्षा नीति में अब सब कुछ बदल दिया गया। नए पाठ्यक्रम में बहुत कुछ शामिल किया गया है। अब नए पाठ्यक्रम में रामायण, महाभारत और भारतीय संग्राम की कहानियां बताई जाएगी। डिग्री कागज का टुकड़ा न हो। इस आधार पर शिक्षा नीति बनाई गई है। उन्होंने विशेष तौर पर कहा कि कॉलेज में नए- नए कोर्स खोलें। उन्होंने इस अवसर पर कॉलेज में ई लाइब्रेरी देने की घोषणा की। अब एनसीसी, एनएसएस पाठ्यक्रम का हिस्सा होगें।

वित्त मंत्री श्री देवड़ा द्वारा कहा गया कि, मुख्यमंत्री 2 अगस्त को पिपलिया मंडी में करेंगे 876 करोड़ की मल्हारगढ़ सूक्ष्म सिंचाई परियोजना का भूमि पूजन करेंगे। सरकार ने इस क्षेत्र में अरबों रुपए के विकास के काम किए। प्रजातंत्र में जनता मालिक होती है। जनता जिसको कुर्सी पर बिठाती है, वह सेवक होता है।

मंदसौर विधायक श्री यशपाल सिंह सिसोदिया द्वारा कहा गया कि, दलोदा के आसपास मुख्य मार्ग पर 500 करोड रुपए के विकास के काम किए गए हैं। आज दलोदा में कॉलेज का लोकार्पण हुआ है। इससे अनेक गावों के बच्चों को लाभ मिलेगा। एक समय था जब बच्चे कॉलेज की पढ़ाई करने के लिए मंदसौर जाया करते थे। अब क्षेत्र के बच्चों को इतना दूर नहीं जाना पड़ेगा। यह कॉलेज सेंटर में स्थापित हुआ है। दलोदा तहसील कार्यालय में रजिस्ट्री की व्यवस्था भी हो। इसके साथ ही 1 दिन एसडीम कार्यालय भी लगे। कार्यक्रम के अंत में हॉकी के खिलाड़ियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

Rajesh Danger


by

Tags: