तस्कर जसपाल गुर्जर मौके से फ़रार हुआ, अब तोडबट्टे में लगा

खबर लाइव नीमच। सीबीएन की टीम ने जीरन तहसील के गाँव ग्वाल देविया में दबिश देकर क़रीब तीन क्विंटल पच्चीस किलो डोडाचुरा और नो किलो अफ़ीम ज़ब्त की है। तस्कर जसपाल गुर्जर के घर दबिश दी गई, जसपाल गुर्जर को कार्यवाही की भनक लग गई थी वह भाग गया,उसके बाप श्यामलाल गुर्जर को सीबीएन की टीम उठाकर ले आई, वही फ़रार जसपाल गुर्जर ख़ुद को बचाने के लिए तोड़बट्टा के प्रयास में जुट गया है, करोड़ों रुपये देकर वह बचने की लिए प्रयास कर रहा है, जसपाल गुर्जर का बाप श्यामलाल गुर्जर मानसिक रूप से बीमार है, दिमाग़ी हालत ठीक नहीं है, जसपाल गुर्जर पहले कुख्यात तस्कर बाबू सिंघी के साथ काम करता था, बाबू सिंधी वाले मामले में लेन देन कर बच गया था, बाबू सिंधी के जेल जाने के बाद वह बड़े पैमाने पर मादक प्रदार्थ की तस्करी कर रहा है। वह करोड़ों का आसामी बन गया है, बीती रात को कार्यवाही हुई तो जसपाल गुर्जर मौके से भाग गया था, अब वह फ़रार होते हुए ख़ुद का नाम निकालने के लिए पाँच करोड़ रुपये में तोड़बट्टा करने में तैयार है। बाप भले ही जेल जाए, लेकिन बाप को कुछ पता नहीं है और दिमाग़ ठीक नहीं है, जसपाल गुर्जर बीते कई सालो से तस्करी कर रहा है। तोडबट्टे की खबर सीबीएन के बड़े अधिकारियों तक पपहुँच गई है, अब देखना है जसपाल गुर्जर कैसे बचता है?

Rajesh Danger


Posted

in

by

Tags: